Tuesday, June 29, 2010

आग और रावण का kismat connection...

राजनीति ने रावन को धो क्या डाला,  बड़े बच्चन  साहब के मुह से न जाने क्या क्या निकलवा डाला ,
                                                              मणि सर को भी विवाद मैं घसीट डाला , इस आग मैं  वर्मा जी ने भी घी डाला ,                                    कोई कुछ कहे या न कहे हर किसी को इस रावन ने हिला डाला ,                                                                 कल के गुरु भाई को  को सांवरिया ने पछाड़ डाला ,                                                                               बचचन चाहे बड़े हो या छोटे दोनों ने प्रयोगवादी के नाम पर अपना मुह जला डाला ...एक को आग तो वक को रावण ने जला डाला ......

2 comments:

Udan Tashtari said...

बड़ी बेकार फिल्म निकली रावण.

Deeepak singh said...

सही कहा आपने ....