Friday, February 5, 2010

इन्तेहाँ हो गयी .... अब तो बस करो !!!!!!!!111

इन्तेहाँ हो गयी ....  अब तो बस करो . जी हाँ यह तो इन्तेहाँ की भी इन्तेहाँ हो चुकी है, जिस तरह से अमर वाणी और नेता जी का  कथित शब्द युद्ध अपने चरम पर है , जिस तरह से राज , बाल और उद्धव ठाकरे मराठी राग अपने चरम पर है , पर राज्य और केंद्र में आसीन कांग्रेस पार्टी मौन है  इस तरह के हालातों में कोई भला क्या सोच सकता है एक तरफ मराठी राग अलापा जा रहा है और मुंबई से उत्तर भारतीओं को निशाना बनाया जा रहा है, वहीँ उत्तर प्रदेश में खुद एक तरह से अराजकता का माहोल है. इन सब बातों के बीच भला उस आम इंसान का क्या जो इन तमाम नेताओं और राजनितिक दलों के निशाने पर है ....  जरा उसका भी तो कुछ सोचो ...     कांग्रेस पार्टी अब तो नींद से जगे ऐसा मेरा मानना है ...............  बाकी रब जाने

No comments: